ALL MEDICAL AND HEALTH JOBS AND CARRER ENTERTAINMENT business education UNIVERSAL SPORTS RELIGION
<राजस्थान आवासन मंडल की 25 योजनाओं शुभारंभ और शिलान्यास>
August 22, 2020 • jainendra joshi • UNIVERSAL

 

 

हमारा सपना है कि देश में राजस्थान आवासन मंडल की अलग पहचान बने- मुख्यमंत्री

मुख्यमंत्री ने किया राजस्थान आवासन मंडल की 25 योजनाओं शुभारंभ और शिलान्यास

पवन अरोड़ा ने बहुत कम समय में किया अपेक्षा से कई गुना अच्छा काम

जयपुर को मिली सौगात,

कोचिंग हब, प्रताप नगर और सिटी पार्क, मानसरोवर का हुआ शिलान्यास

14 स्वतंत्र आवासीय योजनाओं, 4 मुख्यमंत्री जन आवास योजना का हुआ शुभारंभ 7 परियोजनाओं का हुआ शिलान्यास

मुख्यमंत्री राज्य कर्मचारी आवासीय योजना, प्रताप नगर, जयपुर का भी हुआ शुभारम्भ

गुणवत्ता नियंत्रण एप 'आरएचबी सजग' हुआ लॉच एवं पुस्तिका का भी हुआ विमोचन

जयपुर,  मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत ने शनिवार को मुख्यमंत्री निवास पर वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से राजस्थान आवासन मण्डल की 25 परियोजनाओं

का शिलान्यास एवं शुभारम्भ किया। उन्होंने 14 आवासीय योजनाओं एवं 4 मुख्यमंत्री जन आवास योजनाओं का शुभारम्भ और 7 परियोजनाओं का

शिलान्यास करने के साथ ही उनकी पुस्तिकाओं का विमोचन किया। इसके साथ ही मुख्यमंत्री ने राणा सांगा मार्केट, प्रताप नगर, जयपुर का भी शुभारंभ

कियामुख्यमंत्री ने इस अवसर पर गुणवत्ता नियंत्रण के लिए बनाए गए मोबाइल एप 'आरएचबी सजग' को लॉन्च किया और पुस्तिका का विमोचन

कियामुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत ने नई परियोजनाओं के शुभारम्भ और शिलान्यास पर खुशी व्यक्त करते हुए कहा कि इनसे लोगों को न केवल छत

मिलेगी, बल्कि सिटी पार्क, कोचिंग हब और चौपाटी जैसी परियोजनाओं लाकर मंडल ने लोगों को बड़ी सौगात दी हैराजस्थान आवासन मंडल द्वारा जिस

तरह एक के बाद एक 25 परियोजनाओं का एक ही दिन में शिलान्यास और शुभारम्भ किया गया, वह ऐतिहासिक है। आर्थिक दृष्टि से कमजोर और

अल्पआय वर्ग के लोगों का आवास उपलब्ध कराना गुड गर्वेन्स का हिस्सा मुख्यमंत्री ने कहा कि समाज के आर्थिक दृष्टि से कमजोर और अल्पआय वर्ग के

लोगों को गुणवत्तायुक्त आवास उपलब्ध करवाना भी गुड गवर्नेस का हिस्सा है। इसमें आवासन मण्डल की बड़ी भूमिका हैउन्होंने कहा कि जनता की आशा

और अपेक्षाओं के साथ ही आबादी के अनुरूप आवासन मण्डल प्रदेशभर में आवासीय योजनाओं के लिए मास्टर प्लानिंग करे, जिससे 50 साल पहले जिस

उद्देश्य के साथ हाउसिंग बोर्ड की स्थापना की गई थी, वह साकार हो सके। उन्होंने कहा कि हर जिले में और छोटे कस्बों में भी मांग के अनुरूप आवासीय

योजनाएं विकसित की जानी चाहिए। इसके साथ ही उन्होंने मकानों की गुणवत्ताके बनें। इस पर आयुक्त ने मुख्यमंत्री को आश्वस्त किया कि हाउसिंग बोर्ड में

जो निर्माण कार्य हो रहे हैं, उनमें क्वालिटी सुनिश्चित करने पर विशेष जोर दिया जा रहा है। गुणवत्ता नियंत्रण की तैयार की किए गए एप 'आरएचबी सजग'

और पुस्तिका से इंजीनियरों को गुणवत्ता सुनिश्चित करने में मदद मिलेगीधारीवालजी के मार्गदर्शन में पवन अरोड़ा ने कर दिखाया किया अपेक्षा से अच्छा

काम मुख्यमंत्री ने आयुक्त की कार्यशैली की प्रशंसा करते हुए कहा कि जबसे पवन अरोड़ा को राजस्थान आवासन मंडल के आयुक्त की जिम्मेदारी दी है,

उन्होंने नगरीय विकास एवं आवासन मंत्री श्री शांति धारीवाल के नेतृत्व में बहुत ही कम समय में अपेक्षा से कई गुना अधिक अच्छा काम करके दिखाया है।

उन्होंने कहा कि अगर कोई अधिकारी पवन अरोड़ा की तरह यह ठान ले कि मैं मेरी टीम के साथ में चैलेंज को स्वीकार करता हूं, तो कई संस्थाओं का

कायाकल्प हो सकता है। उन्होंने कहा कि इसमें कोई दोराय नहीं है कि आयुक्त पवन अरोड़ा और उनकी टीम ने मंडल की गुडविल को बढ़ाया है। कोरोना

के दौर भी हाउसिंग बोर्ड ने अच्छा काम किया हैधारीवाल जी के नेतृत्व में पवन अरोड़ा और उनकी टीम ने मंडल को पुनर्जीवित किया श्री गहलोत ने कहा

कि पूर्ववर्ती सरकार में राजस्थान आवासन मण्डल को सफेद हाथी के रूप में देखा जा रहा था और इसे बंद करने की नौबत आ गई थी, लेकिन वर्तमान

राज्य सरकार की इच्छाशक्ति और नगरीय विकास एवं आवासन मंत्री श्री शांति धारीवाल का मार्गदर्शन व पवन अरोड़ा के नेतृत्व में आवासन मण्डल के

अधिकारियों एवं कर्मचारियों के समर्पण भाव से काम करने का ही परिणाम है कि मण्डल को नया जीवन मिला है। उन्होंने कहा कि उनका सपना है कि

राजस्थान आवासन मंडल इतना अच्छा काम करे कि उसकी देश में अलग पहचान बने। मुख्यमंत्री ने ली चुटकी, कहा कितनी योजनाओं का और कराओगे

शुभारम्भ, ये तो खत्म ही नहीं हो रही जब मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत 25 से अधिक परियोजनाओं का शिलान्यास और शुभारम्भ कर रहे थे, तो उन्होंने उन

योजनाओं की पुस्तिकाओं और फोल्डरों का विमोचन करते-करते आयुक्त को कहा कि और कितनी बची हैं, ये तो खत्म ही नहीं हो रहीइस पर नगरीय

विकास एवं आवासन मंत्री ने कहा कि साहब, ये आवासन मंडल है, जहां अब परियोजनाएं कभी खत्म नहीं होंगीसरकार के प्रयासों से आवासन मंडल तेजी से

दौड़ने लगा है नगरीय विकास एवं आवासन मंत्री श्री शांति धारीवाल ने कहा कि मुख्यमंत्री की जनहितैषी सोच का ही परिणाम है कि आज जयपुर में सिटी

पार्क जैसे बड़े उद्यान की परियोजना मूर्त रूप ले रही है। साथ ही आर्थिक रूप से कमजोर वर्गों के लिए अपने मकान का सपना साकार हो रहा है। उन्होंने

कहा कि बंद होने की कगार पर खड़ा आवासन मण्डल आज राज्य सरकार के प्रयासों के कारण तेजी से दौड़ रहा है

 

आवासन मण्डल के आयुक्त श्री पवन अरोड़ा ने प्रस्तुतीकरण के माध्यम से आवासन मंडल की उपलब्धियों को बतायाउन्होंने बताया कि किस तरह महज

10 माह में आवासन मंडल ने शानदार उपलब्धियां अर्जित की हैं। आयुक्त ने अभी तक बेची गई सम्पत्तियों, अर्जित किए गए राजस्व और वर्तमान

परियोजनाओं के बारे में विस्तार से जानकारी दी। उन्होंने बताया कि विगत दस माह में ही राजस्थान आवासन मण्डल ने विभिन्न आवासीय एवं वाणिज्यिक

सम्पत्तियों का विक्रय कर करीब 1400 करोड़ रूपए का राजस्व अर्जन किया है, जो एक बड़ी उपलब्धि है। उन्होंने कहा कि राजस्व अर्जन के साथ-साथ

मण्डल ने कई जनोपयोगी निर्णय लेकर उन्हें मूर्तरूप देने का प्रयास किया है। इन उपलब्धियों के लिए उन्होंने मंडल की पूरी टीम को श्रेय दियामुख्यमंत्री ने

कल्पवृक्ष का जोड़ा आयुक्त को सौंप कर किया पौधारोपण कार्यक्रम का शुभारंभ मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर स्वयं की ओर से सिटी पार्क, मानसरोवर में

रोपित करने के लिए कल्पवृक्ष का जोड़ा आयुक्त को सौंप कर पौधारोपण कार्यक्रम का शुभारम्भ कियासाथ ही नगरीय विकास एवं आवासन मंत्री श्री शांति

धारीवाल ने भी आयुक्त श्री पवन अरोड़ा को रूद्राक्ष का पौधा सिटी पार्क में रोपित करने के लिए सौंपा। इस अवसर पर मुख्य सचिव श्री राजीव स्वरूप,

अतिरिक्त मुख्य सचिव वित्त श्री निरंजन आर्य, सूचना एवं जनसम्पर्क आयुक्त श्री महेन्द्र सोनी सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे। इन 14 आवासीय

योजनाओं का हुआ शुभारम्भ 1. वाटिका आवासीय योजना, सांगानेर, जयपुर महला आवासीय योजना, अजमेर रोड़, जयपुर महात्मा ज्योतिराव फुले

आवासीय योजना, नसीराबाद (अजमेर) निवाई आवासीय योजना, निवाई (टोंक) मुख्यमंत्री राज्य कर्मचारी आवासीय योजना, प्रताप नगर, जयपुर वीकएण्ड

होम पंजीकरण योजना-2020, नायला, जयपुर -भाग-2 आवासीय योजना, भीलवाड़ा शाहपुरा आवासीय योजना, भीलवाड़ा शास्त्री नगर आवासीय योजना,

भीलवाड़ा अटल नगर आवासीय योजना, भीण्डर, उदयपुर द्वारकापुरी योजना, सविना द्वितीय एवं दक्षिण विस्तार आवासीय योजना-उदयपुर 12. महात्मा

गांधी सम्बल आवासीय योजना, बड़ली, जोधपुर 13. मानपुर आवासीय योजना, आबूरोड़ शहर, जिला सिरोही 14. खोड़ा गणेश फेज चतुर्थ आवासीय योजना

किशनगढ़ (अजमेर) चार मुख्यमंत्री जन आवास योजनाओं का शुभारम्भ 1. मुख्यमंत्री जन आवास योजना, सेक्टर-3, प्रताप नगर, जयपुर 2. मुख्यमंत्री जन

आवास योजना, सेक्टर-28, प्रताप नगर, जयपुर मुख्यमंत्री जन आवास योजना, सेक्टर-7 (जी.एच.3), इंदिरा गांधी नगर, जयपुर मुख्यमंत्री जन आवास

योजना, सेक्टर-7 (जी.एच.4), इंदिरा गांधी नगर, जयपुर इन 7 योजनाओं का किया शिलान्यास 1. कोचिंग हब, प्रताप नगर, जयपुर 2. सिटी पार्क,

मानसरोवर, जयपुर महात्मा गांधी सम्बल आवासीय योजना, बड़ली, जोधपुर 4. जोधपुर चौपाटी, जोधपुरकोटा चौपाटी, कोटा सामदायिक केन्द्र, सेक्टर-3

प्रताप नगर, जयपूर सामुदायिक केन्द्र, सेक्टर-26 प्रताप नगर, जयपुर 7. आयुक्त और अध्यक्ष ने सिटी पार्क मानसरोवर में रोपित किया मुख्यमंत्री का दिया

कल्पवृक्ष का जोड़ा सिटी पार्क में बड़े स्तर पर पौधारोपण कार्यक्रम का शुभारंभ आईआईएस विश्वविद्यालय सहित विभिन्न सामाजिक संगठनों के लोगों ने की

शिरकत आयुक्त ने कहा कि विश्वस्तरीय होगा सिटी पार्क आमजन की सहभागिता से यहां लगाएं जाएंगे 21 हजार पौधे जयपुर, 22 अगस्तआवासन आयुक्त

श्री पवन अरोड़ा ने मंडल अध्यक्ष श्री भास्कर ए सांवत के साथ सिटी पार्क, मानसरोवर में मुख्यमंत्री द्वारा यहां रोपित करने के लिए प्रदान किए गए कल्पवृक्ष

के जोड़े को लगाकर, पौधारोपण कार्यक्रम का शुभारंभ किया। इस अवसर पर उन्होंने नगरीय विकास एवं आवासन मंत्री श्री शांति धारीवाल की ओर से

प्रदान किए गए रूद्राक्ष के पौधे को भी रोपित कियाआवासन आयुक्त श्री पवन अरोड़ा और अध्यक्ष श्री भास्कर ए सांवत द्वारा भी वृक्षारोपण किया

गयाआयुक्त ने कहा कि इस पार्क में आमजन से अधिक से अधिक पौधारोपण का आह्वान किया है। उन्होंने कहा कि कोरोना के मद्देनजर सोशल डिस्टेंसिंग

की पालना सुनिश्चित करने के लिए आवासन मंडल द्वारा 'आरएचबी ग्रीन' एप लॉच किया गया है। इस एप और वेबसाइट पर पंजीयन कर लोग पौधारोपण

कर सकते हैं। आवासन आयुक्त ने कहा कि यह पार्क जयपुर के लिए वरदान होगा, जो कि सेंट्रल पार्क से भी बड़ा होगाइस पार्क में विभिन्न प्रजातियों के

लगभग 21 हजार पौधे रोपित किए जाएंगेयह पार्क 52 एकड़ में बन रहा हैइसमें 75 फीसदी ग्रीन एरिया होगा। इसमें जॉगिंग ट्रेक, वॉकिंग ट्रेक, वाटर

बॉडीज, बॉटनीकल गार्डन, एंटेस प्लाजा, फूड कोर्ट, पार्किंग सहित कई सुविधाएं विकसित की जाएंगीइस दौरान आईआईएस विश्वविद्यालय के फैकल्टी

मैम्बरों द्वारा भी पौधारोपण किया गयाइस अवसर पर राजस्थान आवासन मंडल के अधिकारी कर्मचारियों सहित गणमान्य नागरिक उपस्थित थे